दिनांक 8 अक्टूबर 2022 को महाविद्यालय में “डांडिया महोत्सव” का आयोजन किया गया। नवरात्रि के दौरान किये जाने वाले इस ‘डांडिया रास’ में चमकीले रंगों में चित्रित बांस की छड़ों अथवा डांडियों के साथ नृत्य किया जाता है। कार्यक्रम की शुरुआत प्रबंध कार्यकारिणी समिति के सचिव श्री लक्ष्मीकांत पारीक, प्राचार्या डॉ. विजयलक्ष्मी पारीक द्वारा मां दुर्गा की आराधना से की गई। इस अवसर पर पारीक प्रबंध कारिणी समिति के सदस्य श्री रितेश पारीक, श्री भगवती पारीक, श्री एन. के. पारीक तथा डॉ. प्रमिला दुबे (प्राचार्य, कॉलेज ऑफ एजुकेशन), श्रीमती चंदा शर्मा (प्रधानाचार्या, पारीक सी. सै. स्कूल, बनीपार्क) ने भी उपस्थित होकर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाई। महाविद्यालय की सभी छात्राएं डांडिये की पारम्परिक रंग बिरंगी परिधानों में नजर आईं। ढोल बाजे, हे राम रे, पंखीड़ा, जय अंबे जैसे गानों पर छात्राओं ने ताल से ताल मिलाते हुए डांडिया नृत्य किया तथा साथ ही राजस्थानी, वेस्टर्न, गुजराती गीतों का जमकर लुफ्त उठाया।
डांडिया के इस अवसर पर छात्राओं के लिए विभिन्न प्रतियोगिताएं भी रखीं गईं। जिनकेे अंतर्गत बेस्ट डांडिया ड्रेस, बेस्ट परफॉर्मेंस, बेस्ट डेकोरेटेड डांडिया चुने गए। उपस्थित सभी प्रबंध कारिणी सदस्यों तथा प्राचार्य डॉ. विजयलक्ष्मी पारीक द्वारा विजेता छात्राओं को पुरस्कार प्रदान किए गए।तदनंतर सभी को मां अंबे का प्रसाद भी वितरण किया गया। कार्यक्रम में महाविद्यालय के सभी स्टाफ सदस्य उपस्थित रहे।